छठ: आज दिया जाएगा अस्त होते सूरज को पहला अर्घ्य, जानिये शुभ मुहूर्त और विधि

0
259
chhath pooja

छठ पूजा में भगवान सूर्य की उपासना की जाती है. छठ पूजा में उगते सूर्य और डूबते सूर्य को अर्घ्य दिया जाता है. बुधवार को खरना के बाद व्रतियों का 36 घंटे तक निर्जला व्रत शुरू हो गया है. पहला अर्घ्य आज अस्त होते सूरज को दिया जाएगा. गुरुवार को षष्ठी के दिन व्रतीजल में उतरकर डूबते सूरज को अर्घ्य देंगे.

अर्घ्य देने का शुभ समय

सायंकालीन अर्घ्य- 26 अक्टूबर (गुरुवार)

सायंकालीन अर्घ्य का समय :- सांय काल 05:40 बजे से शुरू

अर्घ्य कैसे दें

बांस के सूप में फल रखकर उसे पीले कपड़े से ढ़क दें और डूबते सूरज को तीन बार अर्घ्य दें. तांबे के बर्तन में जल भरें, इसमें लाल चंदन, कुमकुम और लाल रंग का फूल डालें. सूर्योदय के समय पूर्व की दिशा में मुंह करके अर्घ्य दें.

अपने सिर की ऊंचाई के बराबर तांबे के पात्र को ले जाकर सूर्य मंत्र का जाप करें.