गर्मियों में न पिएं आइस टी, कहीं हो न जाये ये गंभीर बीमारी

0
223

यदि आप भी आइस टी पीने के शौकीन हैं, तो जरा संभल जाएं। शोधकर्ताओं का कहना है कि ऐसे देश जहां हैजा का खतरा अधिक रहता है, वहां आइस टी पीने से यह खतरा और भी बढ़ सकता है। हैजा के प्रसार के लिए आमतौर पर गंदगी को कारण माना जाता है।

इसकी रोकथाम के लिए होने वाले तमाम प्रयास पीने के स्वच्छ पानी और स्वच्छ भोजन की व्यवस्था पर केंद्रित रहते हैं, मगर शोध के नतीजों ने इस पर पुनर्विचार की स्थिति बना दी है। शोधकर्ताओं के मुताबिक हैजा का कारण बनने वाला बैक्टीरिया विब्रियो कोलेरा बर्फ के जरिये भी फैल सकता है। यदि बर्फ की आपूर्ति करने वाली कंपनियों पर नजर नहीं रखी गई, तो हैजा पर लगाम लगाना मुश्किल हो सकता है। वैज्ञानिकों को वियतनाम में ऐसे कुछ मामले देखने को मिले हैं।