बीड, 9 अप्रैल 2021

एक चौंकाने वाली घटना में, महाराष्ट्र के बीड के एक दंपति बुधवार को अमेरिका के न्यू जर्सी में उनके घर पर मृत पाए गए। पड़ोसियों ने दंपति की चार वर्षीय बेटी को बालकनी में रोता देख पुलिस को इसकी सूचना दी। अधिकारिक सूत्रों ने यहां शुक्रवार को इसकी जानकारी दी। मृतकों की पहचान 32 वर्षीय सॉफ्टवेयर इंजीनियर बालाजी रुद्रवर और 30 वर्षीय उनकी पत्नी आरती के रूप में हुई है, जो सात महीने की गर्भवती थीं।

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी की सांसद सुप्रिया सुले ने विदेश मंत्री एस जयशंकर से इस मामले को देखने और परिवार की एकमात्र जीवित सदस्य, उनकी 4 वर्षीय बेटी की मदद करने की व्यवस्था करने की अपील की है।

उन्होंने एक ट्वीट में कहा, “कृपया मामले पर गौर करें और पूरी जांच करवाएं। उनकी चार वर्षीय बेटी की मदद करने का अनुरोध कर रही हूं, जो अकेली है और बिना किसी की मदद के है। कृपया उसे भारत में उनके परिवार के पास वापस लाने में आवश्यक मदद करें।”

बच्ची की पहचान अभी स्पष्ट नहीं है। वह वर्तमान में अपने माता-पिता के कुछ पारिवारिक दोस्तों के साथ रह रही है।

बीड में टेंपल टाउन अम्बेजोगाई के रहने वाले कपल अगस्त 2015 में शादी के बाद अमेरिका चले गए थे।

रुद्रवार 21ई गार्डन टेरेस, उत्तरी अर्लिगटन, न्यू जर्सी में रहते थे, जो लगभग 15,000 की आबादी वाला एक छोटा सा शहर है।

बालाजी के पिता भरत रुद्रवार ने मीडियाकर्मियों को बताया कि स्थानीय पुलिस ने उन्हें इस बारे में सूचना दी थी, लेकिन कहा कि उनकी मौतों के कारणों पर अभी तक कोई स्पष्टता नहीं है।

हालांकि, अमेरिकी स्थानीय मीडिया ने बताया कि रुद्रवार दंपति को उनके अपार्टमेंट में चाकू से गोदे जाने के निशान के साथ पाया गया और यह घटना पड़ोसियों द्वारा उनकी रोती हुई बेटी को देखने के बाद सामने आई।