पुलिसकर्मी ने जड़ा बेटी को थप्पड़, बेटी की बेइज्ज़ती देख पिता की सदमे से मौत

0
121
Crime News, Sanroor, Police

सुनाम (संगरूर) : बेटी की शादी बचाने के लिए एक पिता को अपनी जान से हाथ धोना पड़ा। मामला सुनाम का है जहां एक विवाहिता की सुसरालियों से  समझौते के लिए बातचीत चल रही थी। इस दौरान पुलिस और ससुराल पक्ष द्वारा बेटी का अपमान पिता नहीं सह सका। लगातार बेटी की बेइज्‍जती से सदमे में पिता की मौत हो गई। इसके बाद कोहराम मच गया। लड़की परिवार वालों ने पिता के शव को थाने के बाहर रख धरने पर बैठ गए।

जानकारी के अनुसार, संगरूर से सुनाम में ब्याही गई युवती की शादी बचाने के लिए थाना सिटी सुनाम में समझौते के लिए दोनों पक्षों को बुलाया गया था। आरोप है कि सोमवार शाम पांच बजे शुरू हुई बैठक के दौरान थाने में एक पुलिस कर्मी ने विवाहिता को थप्पड़ जड़ दिया था इसके बाद भी उसे काफी बेइज्जत किया गया। यह बात लड़की के पिता बर्दाश्त नहीं कर सके और सदमे से वहीं दम तोड़ दिया। इससे गुस्साए लड़की के पारिवारिक सदस्यों ने शाम सात बजे शव को थाने के आगे रख पुलिस के खिलाफ नारेबाजी शुरू की। रात नौ बजे पुलिस ने लड़की के सास-ससुर, पति व जेठानी के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है।

थाने के बाहर मीडिया से कर्मजीत कौर ने बताया कि उसका विवाह सुनाम में सतपाल सिंह पुत्र चंद सिंह के साथ करीब पांच वर्ष पहले हुआ था। शादी के बाद से ही ससुराल परिवार द्वारा उसे काफी परेशान किया जाता था। इस दौरान पांच-छह बार उनका समझौता भी हुआ। वह पिछले चार महीने से मायके में रह रही है।

उसने बताया कि सोमवार शाम पांच बजे वह ससुराल परिवार के साथ समझौते के लिए थाना सिटी सुनाम में आए थे। उसका आरोप है कि इस दौरान एक महिला पुलिस कर्मचारी ने उसे थप्पड़ जड़ दिया। इसके बाद उसे काफी अपमानित भी किया गया। यह बात उसके पिता कुलदीप सिंह (54) सहन नहीं कर पाए। वह दुखी होकर थाने से बाहर चले गए। बाहर निकलते ही वह जमीन पर गिर पड़े। उन्हें सिविल अस्पताल में भर्ती करवाया, जहां डॉक्टरों ने उन्‍हें मृत घोषित कर दिया। पीडि़त परिवार ने पुलिस पर मौत का आरोप लगाते हुए कार्रवाई की मांग की।

थाना सिटी सुनाम के प्रभारी भरपूर सिंह ने पुलिस मुलाजिमों द्वारा लड़की को थप्पड़ मारने और अपमानित करने के आरोपों को गलत बताया। उन्होंने कहा कि ऐसा कुछ नहीं हुआ है। उन्होंने कहा कि लड़की का मायके परिवार थाना सिटी में समझौता करने के लिए लड़के परिवार के साथ आया था। लड़की परिवार द्वारा समझौते पर किया गया हस्ताक्षर इसका सुबूत है। उन्होंने कहा कि लड़की के पिता के भी सिग्नेचर हैं। लड़की के पिता की मौत सरकारी कॉलेज के पास हुई है। वहीं से एंबुलेंस द्वारा उनको सिविल अस्पताल में भर्ती करवाया गया था।

डीएसपी विलियम जैजी ने बताया कि कर्मजीत कौर के बयान के आधार पर ससुरालियों पर मामला दर्ज कर लिया गया है। उसने किसी भी पुलिस कर्मियों के खिलाफ कोई बयान नहीं दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here