फेम इंडिया मैगजीन की “50 प्रभावशाली भारतीय 2020” की सूची में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी सर्वोच्च स्थान पर

    0
    751

    फेम इंडिया मैगजीन और एशिया पोस्‍ट के ’50 प्रभावशाली व्यक्ति 2020′ के सर्वे में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भारत का सर्वाधिक प्रभावशाली व्‍यक्ति मान गया है। इस सर्वे में व्‍यक्तित्‍व, प्रभाव, दूरदर्शिता, छवि, विकासपरक कार्यशैली तथा जन कल्‍याणकारी प्रयास आदि नौ मानदंडों पर करीब बारह हजार से ज्यादा प्रबुद्ध लोगों की राय शामिल है। सर्वे में राजनीति , ब्यूरोक्रेसी, अध्यात्म, चिकित्सा और विज्ञान, पत्रकारिता, समाजसेवा, सहकारिता, उद्योग एवं व्यापार, कला, अभिनय आदि से जुड़े प्रभावशाली व्यक्तियों को शामिल किया गया।

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लगभग 99.6 फीसदी लोगों ने जननायक और बेहद प्रभावशाली व्यक्ति माना है। उनकी कार्यकुशलता और लोकप्रियता के कारण सर्वे में वे सर्वोच्च स्थान पर हैं। उत्तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ बुलंद इरादे, ईमानदार छवि एवं दूरदर्शिता के कारण 97 फीसदी लोगों की राय में दूसरे स्‍थान पर और 96.5 फीसदी लोगों ने भारत के गृहमंत्री अमित शाह को मजबूत निर्णय लेने के साथ ही उसे सफलता के साथ लागू कराने की क्षमता का धनी राजनेता बताया है , वे सर्वे में तीसरे स्थान पर हैं। 95.2 फीसदी राय के साथ देश के जाने माने उद्योगपति रतन टाटा को सामाजिक सरोकार तथा उद्यमिता के लिये चौथा स्‍थान मिला है। वहीं 95 फीसदी मत के साथ पांचवें नंबर पर भारत के सबसे अमीर उद्योगपति मुकेश अंबानी का नाम है। देश में इंटरनेट को आम लोगों तक पहुंचाने के इनके प्रयास की लोगों ने सराहना की है।

    इस सूची में केरल के मुख्‍यमंत्री पी विजयन को छठे स्थान पर माना गया है। उन्हें परिस्थितियों से निपटने वाला सफल मुख्यमंत्री बताया गया है। आर्ट ऑफ लिविंग के फाउंडर श्री श्री रविशंकर ने विश्वशांति गुरु के तौर पर सूची में सातवां स्थान सुनिश्चित किया है । देश के रक्षामंत्री राजनाथ सिंह साफ सुथरी छवि एवं विकास परक कार्यशैली के आधार पर सूची में आठवें स्थान पर है। देश के एनएसए अजीत डोभाल मुश्किल और परेशानियों में संकटमोचक की भूमिका निभाने के कारण नौवें स्थान पर और साफ सुथरी छवि एवं सफल मुख्यमंत्री के तौर पर ओडिशा के मुख्‍यमंत्री नवीन पटनायक दसवें स्थान पर काबिज होने में सफल रहे ।

    प्रधानमंत्री के प्रधान सचिव पीके मिश्रा प्रबंधन क्षमता और प्रभावी कार्यशैली के कारण 11वें, छोटे कार्यकाल में ही बेहतर छवि बनाने वाले झारखंड के मुख्‍यमंत्री हेमंत सोरेन 12वें तथा दिल्ली की जनता पर प्रभाव रखने वाले मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल 13वां स्थान पाने में सफल रहे । विकास के कार्ययोजनाओं के क्रियान्वयन में सफल रहने वाले केंद्रीय सड़क एवं परिवहन मंत्री और एमएसएमई मिनिस्टर नितिन गडकरी चौदहवें तथा केंद्रीय वाणिज्‍य एवं रेल मंत्री पीयूष गोयल 15वें स्थान पर है। बिहार में सात निश्चय योजना को सफलतापूर्वक लागू करवाने में सफल रहे राज्य के मुख्यमंत्री नीतिश कुमार 16वें और भाजपा के राष्‍ट्रीय अध्यक्ष कर्मठ राजनेता जगत प्रकाश नड्डा 17वें स्थान पर हैं। भारत सरकार के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री डा. हर्षवर्धन जनकल्याणकारी नीतियों के कारण 18वें , लोकसभा को बेहतर तरीके से संचालित करने के लिए ओम बिड़ला 19वें और योग को विश्व स्तर तक पहुंचने में महत्वपूर्ण रहे योग गुरु एवं पतंजलि समूह के मुखिया बाबा रामदेव बीसवें नंबर पर हैं।

    कांग्रेस के पूर्व अध्‍यक्ष और जुझारू राजनेता राहुल गांधी 21 वें और रन फॉर वाटर के प्रणेता ईशा फाउंडेशन के प्रमुख सदगुरु जग्‍गी वासुदेव 22वें स्थान पर हैं । देश के राष्ट्रवादी छवि वाले अभिनेता अक्षय कुमार, संसदीय कार्यमंत्री के तौर पर सफल प्रहलाद जोशी और किसानों की भलाई के लिए कार्यरत केंद्रीय कृषिमंत्री नरेंद्र सिंह तोमर क्रमशः 23वें , 24वें और 25वें स्थान पर हैं।

    सहज सुलभ और विशिष्ट कार्यशैली वाले गोवा के मुख्‍यमंत्री डॉ. प्रमोद सावंत 26वें और मजबूत इरादों से परिपूर्ण पंजाब के लोकप्रिय मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह 27वें स्थान पर है । भारत सरकार के केंद्रीय ऊर्जा मंत्री राज कुमार सिंह 28वें और असरदार ब्यूरोक्रेट भारत सरकार के गृह सचिव अजय भल्‍ला सूची में 29वें स्थान पर आए हैं। 30वें स्थान पर आंध्र प्रदेश कैडर की 1983 बैच की आईएएस प्रीति सूदन हैं, जो वर्तमान में भारत सरकार की स्वास्थ्य सचिव हैं। रक्षा उत्पादन के क्षेत्र में ‘मेक इन इंडिया’ को बढ़ावा देने के लिये डिफेंस एक्सपो जैसे सफल आयोजन करवाने वाले भारत सरकार के रक्षा सचिव अजय कुमार 31वें स्थान पर है। 32वां स्‍थान भारत सरकार के पहले सीडीएस जनरल विपिन रावत का है। 33वें स्‍थान पर देश के चर्चित उद्योगपति अडानी ग्रुप के गौतम अडानी है। देश की बड़ी हेल्‍थकेयर कंपनी कैडिला के मालिक एवं उद्योगपति पंकज भाई पटेल का 34वां स्थान है। 35वें स्थान पर देश के साथ हमेशा खड़े रहने वाले उद्योगपति सज्जन जिंदल हैं। युवाओं में एथिकल बिजनेस की मिसाल एवेन्यू सुपरमार्ट्स के संस्थापक राधा कृष्ण दमानी 36वें स्थान पर हैं। 37वें स्थान पर हैं टी सीरीज के भूषण कुमार, देश में म्यूजिक को प्रमोट करने में इनका कार्य बहुत मायने रखता है। 38वें स्थान पर हैं कमजोर वर्ग की मदद के लिये अनुकरणीय कार्य करने वाले उद्योगपति आनंद महिंद्रा। देश में स्वच्छता और सफाई के क्षेत्र में अनवरत कार्य करने वाले सुलभ इंटरनेशनल के फाउंडर डॉ बिंदेश्वर पाठक 39वें स्थान पर हैं। 40वें स्थान पर हैं देश की सबसे बड़ी कोऑपरेटिव ऑर्गनाइजेशन इफको के एमडी एवं सीईओ यूएस अवस्थी, जिनको भारतवर्ष के किसानों की मजबूती की दिशा में कार्य करने के लिये जाना जाता है।

    जनजातियों को आत्मनिर्भर बनाने के लिए बेहतर कार्य कर रहे ट्राइफेड के प्रबंध निदेशक प्रवीर कृष्णा 41वें स्थान पर हैं। 42वें स्थान पर विज्ञान के क्षेत्र में महिलाओं को बढ़ावा देने के लिए मशहूर वैज्ञानिक और जैव प्रौद्योगिकी विभाग की सचिव रेणु स्वरूप हैं। 43वें स्थान पर भारत के अन्तरिक्ष वैज्ञानिक और इसरो के प्रेसिडेंट कैलासवटिवु शिवन, 44वें स्थान पर नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी पुणे की निदेशक प्रिया अब्राहम, और देश में डीजिटल पेमेंट की प्रमुख कंपनी पेटीएम के संस्थापक विजय शेखर शर्मा 45वें स्थान पर हैं। 46वें स्थान पर देश भर में कोविड -19 में डायग्नोस्टिक क्षमता बढ़ाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहीं वरिष्ठ वैज्ञानिक डॉ. निवेदिता गुप्ता हैं। 47वें स्थान पर स्‍वास्‍थ्‍य सेवा के क्षेत्र में शानदार कार्य करने वाले एम्‍स के निदेशक डॉ रणदीप गुलेरिया, हिंदूस्तान अखबार के प्रधान संपादक शशि शेखर 48वें, रैमन मैग्‍सेसे पुरस्‍कार प्राप्त रवीश कुमार 49वें तथा रिपब्लिक टीवी के एडिटर इन चीफ अर्णब गोस्‍वामी 50वें स्थान पर हैं।


    Warning: A non-numeric value encountered in /home/khabrein24/public_html/wp-content/themes/newspaper-761/Newspaper/includes/wp_booster/td_block.php on line 997