मोहाली वनडे: धमाकेदार जीत के साथ टीम इंडिया ने की सीरीज़ में वापसी

0
246

मोहाली, पंजाब के मोहाली में बुधवार को खेले गए भारत-श्रीलंका के बीच मुकाबले में भारत ने श्रीलंका पर धमाकेदार जीत दर्ज की. टीम इंडिया ने रोहित शर्मा की अगुवाई में खेले गए दूसरे मुकाबले में श्रीलंका को 141 रनों से रौंद दिया. इस मैच में रोहित शर्मा ने वनडे करियर का तीसरा दोहरा शतक लगाया. इसके लिए उन्हें मैन ऑफ दी मैच के अवार्ड से भी नवाजा गया. भारत ने इस मैच में श्रीलंका के सामने 393 रनों का लक्ष्य रखा था. जिसके जवाब में श्रीलंका पचास ओवर खेलने के बाद आठ विकेट पर महज 251 रन बना सकी.

टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने उतरी थिसारा परेरा के नेतृत्व वाली श्रीलंकाई टीम के हिस्से में कुछ भी अच्छा नहीं गया. बमुश्किल 22वें ओवर में जाकर पहला विकेट मिला. इस वक्त भारत मजबूत स्थिति की तरफ बढ़ रहा था. 22 वें ओवर की पहली गेंद पर शिखर धवन 68 रन बनाकर सचिथ पथिराना का शिकार बने. इसके बाद सलामी बल्लेबाज रोहित और अपने करियर का दूसरा मुकाबला खेल रहे श्रेयस अय्यर ने भारत की पारी को आगे बढ़ाया और कप्तान के साथ मिलकर एक बड़ी साझेदारी की.

इस बीच श्रेयस अय्यर ने अपने वनडे करियर की पहली फिफ्टी जड़ी. हालांकि इस मैच में वह शतक लगा सकते थे लेकिन एक गलत शॉट खेलकर वह थिसारा परेरा का शिकार बने. उन्होंने आउट होने से पहले नौ चौके और दो छक्कों की मदद से ताबड़तोड़ 88 रन बना डाले. इस दौरान एक छोर कप्तान रोहित शर्मा ने संभाल रखा था.

उन्होंने इस मैच में 153 गेंदों पर 208 रन बनाये, जिसमें 13 चौके और 12 छक्के शामिल थे. उनके अलावा पूर्व कप्तान एमएस धोनी ने 7 जबकि हार्दिक पांड्या 8 रन बनाकर आउट हो गए. श्रीलंका की तरफ से थिसारा परेरा को 3 विकेट जबकि सचिथ पथिराना को एक विकेट मिला. वहीं पिछले मैच में भारतीय टीम को धरासाई करने वाले गेंदबाज सुरंगा लकमल को एक विकेट भी नहीं मिला और उन्होंने जमकर रन लुटाए.

टीम इंडिया की तरफ से मिले 393 रनों के पहाड़ जैसे स्कोर का पीछा करते हुए श्रीलंका हर कदम पर बौनी साबित हुई. एजेंलो मैथ्यूज को छोड़ दें तो श्रीलंका की तरफ से किसी भी बल्लेबाज का प्रदर्शन कुछ ख़ास नहीं रहा. मैथ्यूज ने इस मैच में अपनी वनडे करियर के पांच हजार रन पूरे किए. साथ ही करियर की दूसरी शतकीय पारी खेली.

इस मैच में उन्होंने 132 गेंदों का सामना करते हुए 111 रनों की पारी खेली और काफी समय तक विकेट पर एक छोर संभाले रखा. लेकिन उनका ये शतक श्रीलंका को जीत नहीं दिला सका. उनके अलावा असेला गुणरत्ने ने 34 रन की पारी खेली. निरोशन डिकवेला ने भी 22 रनों का योगदान दिया.

भारत की तरफ से गेंदबाजों ने अच्छी शुरुआत दी. हार्दिक पांड्या ने उपुल थरंगा को सात रन पर चलता किया, जब श्रीलंकाई टीम का कुल स्कोर 15 रन था. हालाँकि इस मैच में भारत श्रीलंका के दस विकेट नहीं गिरा सका, ये बात किसी हद तक भारतीय खेमे को चिंतित जरूर करेगी. मोहाली में खेले गए इस मैच में युजवेंद्र चहल ने तीन विकेट, जसप्रीत बुमराह ने दो, तो वहीं वॉशिंगटन सुंदर को एक-एक विकेट मिला.

वहीं अगर इस तीन मैचों की सिरीज की बात करें तो भारत और श्रीलंका ने एक-एक मुकाबला अपने नाम किया है. ऐसे में सभी की निगाहें रविवार 17 दिसंबर को विशाखपट्नम में होने वाले आखिरी और इस सिरीज के निर्णायक मुकाबले पर होंगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here