फेम इंडिया मैगजीन – एशिया पोस्ट सर्वे ” अमन चैन को प्रतिबद्ध “उत्कृष्ट आईपीएस 2020 “

    0
    775

    राष्ट्र की तरक्की सुदृढ़ कानून व्यवस्था और सुरक्षा के माहौल में ही संभव है। इनमें शीर्ष आईपीएस (भारतीय पुलिस सेवा ) अधिकारियों की महत्त्वपूर्ण भूमिका होती है। कानून व्यवस्था में सुधार और भयमुक्त समाज का निर्माण किसी भी सरकार के लिए प्राथमिकता के साथ ही साथ बड़ी चुनौती भी होती है। जहां कानून व्यवस्था कमजोर होती है, उस देश की छवि अंतरराष्ट्रीयर स्तर पर खराब होती है और उसका असर सर्वागीण विकास पर भी पड़ता है। सख्त कानून व्यवस्था को बहाल करने, आतंकवाद और नक्सलवाद पर काबू करने , मजबूत नेशनल और इंटरनेशनल इंटेलिजेंस नेटवर्क और आंतरिक सुरक्षा मजबूत करने के साथ पुलिस बल का मनोबल बढ़ाने और अपराध पर अंकुश लगाने में आईपीएस अधिकारियों की भूमिका अहम होती है । ऐसे में उनकी जिम्मेवारी बहुत बड़ी भी हो जाती है। पद की गरिमा के साथ ही कर्त्तव्य के ईमानदारी पूर्वक निर्वहन में अनुभवी आईपीएस अधिकारियों का महत्वपूर्ण योगदान होता हैं। आर्थिक और औद्योगिक प्रगति की दिशा में देश जो कदम बढ़ाता हैं, उसमें भी उत्कृष्ट कार्यों से प्रतिष्ठा बढ़ाने वाले आईपीएस अधिकारियों की भूमिका को नकारा नही जा सकता है। राष्ट्र और राज्य में लॉ एंड आर्डर में सुधार और क्राईम कंट्रोल के अलावा आंतरिक सुरक्षा ,अर्द्ध सैनिक बल और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कार्य करने वाली सुरक्षा संस्थाओं के प्रमुख भी आईपीएस अधिकारी ही होते हैं ।‌

    फेम इंडिया ने सकारात्मक मीडिया होने के नाते इस बार देश की सुरक्षा , शांति और जनता में कानून के प्रति विश्वास जगाने में अपनी बेहतर भूमिका निभा रहे आईपीएस अधिकारियों को श्रेय और सम्मान देने का निर्णय किया। वर्तमान में देश भर में करीब चार हजार कार्यरत आईपीएस अधिकारीयों में से सिर्फ 25 को उत्कृष्ट के तौर पर चुनना एक बेहद चुनौतीपूर्ण कार्य था। सर्वप्रथम फेम इंडिया मैगजीन – एशिया पोस्ट सर्वे ने 1995 बैच तक के वरिष्ठ आईपीएस को ही इस सर्वे में शामिल किया। विभिन्न स्रोतों और मीडिया रिपोर्टों के आधार पर लगभग 200 अधिकारियों के नामों का चयन निम्नांकित 9 मापदंडों – क्राईम कंट्रोल , लॉ एंड आर्डर में सुधार , पीपुल्स फ्रेंडली, दूरदर्शिता, उत्कृष्ट सोच, जवाबदेह कार्यशैली , अहम फैसले लेने की त्वरित क्षमता, सजगता, व्यवहार कुशलता पर किया । जिसमें देश भर के विभिन्न क्षेत्रों के प्रबुद्ध लोगों की राय और ग्राउंड रिपोर्ट को आधार बनाया गया । ये सभी 200 आईपीएस अपनी उत्कृष्टता के कारण देश भर में विशिष्ट स्थान रखते हैं। उन सभी अधिकारियों को 25 कैटेगरियों में बांटा गया और हर कैटगरी से एक -एक उत्कृष्ट आईपीएस को सूची में पब्लिश किया गया।