अगर रोज़ करेंगे योग, तो दूर रहेंगी कई बीमारियां

0
298
योगा

योग देश ही नहीं, दुनिया भर में मशहूर हो चुका है। कई ऐसी असाध्य बीमारियां हैं, जिनका इलाज योग द्वारा संभव है मगर योग क्रिया का पूरा फायदा मिले इसके लिए जरूरी है कि योग सही तरीके से किया जाए। योग को दुनियाभर में मशहूर करने के लिए ही 21 जून को योग दिवस के रूप में मनाया जाता है।

इस मौके पर लाइफ और योग गुरु सुरक्षित गोस्वामी जी ने कुछ खास टिप्स दिए हैं। इनकी मदद से आप भी योग का पूरा फायदा ले सकते हैं।

आसन कब करें?
सुबह-शाम कभी भी आसन कर सकते हैं, मगर भरपेट खाना खाने के 3-4 घंटे बाद, हल्के स्नैक्स और घंटे भर बाद, चाय, छाछ या तरल चीजें लेने के आधे घंटे बाद और पानी पीने के 10-15 मिनट बाद आसन करना बेहतर होता है।

कौन कर सकता है योग?
3 साल से बड़ा कोई भी शख्स योग कर सकता है। यदि आप बच्चे को गौर से देखेंगे तो पाएंगे कि वह खेल-खेल में ही कई तरह के आसन करता है। 12 साल तक के बच्चों को हल्के योगासन और प्राणायाम करना चाहिए। बेहतर होगा वे मुश्किल आसन और क्रियाएं न करें। प्रेग्नेंसी में मुश्किल आसन, कपालभाति न करें।

महिलाएं पीरियड्स के दौरान, नॉर्मल डिलिवरी के 3 महीने बाद तक और ऑपरेशन के 6 महीने बाद तक योग न करें। इसके अलावा साथ ही कमर दर्द हो, तो आगे न झुकें, पीछे झुक सकते हैं। यदि हर्निया हो तो पीछे न झुकें। दिल से जुड़ी बीमारी वालों को योगासन शुरू करने से पहले डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए।

कहां और कैसे करें-
– खुले में ताजा हवा में योग करना बेहतर है। ऐसा मुमकिन नहीं हो तो कहीं भी योग कर सकते हैं। जरूरी है कि इस दौरान माहौल शांत हो। मन को शांत करने वाला म्यूजिक हल्की आवाज में चला सकते हैं।

– जमीन पर योग मैट, दरी या कालीन बिछाकर योग करें। थोड़े ढीले कॉटन के कपड़े पहनना बेहतर रहता है। टी-शर्ट व ट्रैक पैंट आदि में भी कर सकते हैं।

– योगासन आंखें बंद करके करें। इससे योग और भी प्रभावशाली हो जाता है। ध्यान शरीर के उन हिस्सों पर लगाएं, जहां आसन का असर हो रहा है, जहां दबाव पड़ रहा है। भाव से करेंगे तो प्रभाव जल्दी और ज्यादा होगा।

– योग में सांस लेने और छोड़ने की बहुत अहमियत है। इसका सीधा फंडा है- जब भी शरीर फैलाएं, पीछे की तरफ जाएं, सांस भरते हुए करें और जब भी शरीर सिकुड़े या आगे की ओर झुकें, सांस छोड़ते हुए झुकें। सांस नाक से लें, मुंह से नहीं।

– योग करते हुए शरीर को शिथिल रखें और झटके से बचाएं। झटके से आसन न करें। उतना ही करें, जितना आसानी से कर पाएं। धीरे-धीरे अभ्यास बढ़ाएं।

– योग को हमेशा ध्यान और मौन से करना चाहिए।

– थकावट, बीमारी और जल्दबाजी में योग न करें।

– योग के 30 मिनट बाद स्नान करना चाहिए और 30 मिनट बाद ही कुछ खाना चाहिए, उससे पहले नहीं।

– योग का नतीजा आने में वक्त लगता है। ऐसे में नतीजे को लेकर जल्दबाजी न करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here