Ind Vs SL Lunch Break: भारत का स्कोर 487/9, पांड्या ने लागाया करियर का पहला शतक

0
133

भारत और श्रीलंका के बीच तीन टेस्ट मैचों की सीरीज का आखिरी टेस्ट कैंडी के पल्लेकेले स्टेडियम में खेला जा रहा है। भारतीय कप्तान विराट कोहली ने लगातार तीसरी बार टॉस जीतकर बल्लेबाजी का फैसला किया। पांड्या ने ताबड़तोड़ बल्लेबाजी करते हुए अपने करियर का पहला शतक लगाया।

पहले बल्लेबाजी करते हुए टीम इंडिया ने दूसरे दिन लंच तक 122 ओवर में 9 विकेट गंवा कर 487 रन बना लिए हैं। उमेश यादव (3 रन) और हार्दिक पंड्या (108 रन) क्रीज पर हैं।

एक ओवर में सबसे ज्यादा रनों का रिकॉर्ड
हार्दिक पांड्या ने मलिंदा पुष्पकर्मा के एक ओवर में रिकॉर्ड 26 रन बनाये। ये भारतीय इतिहास में सबसे बड़ा ओवर था। इससे पहले किसी भी भारतीय ने एक ओवर में इतने रन नहीं बनाये थे। पांड्या ने पुष्पकर्मा के ओवर की पहली और दूसरी गेंद पर शानदार 2 चौके जड़े और फिर लगातार तीन गेंद पे तीन छक्के लगाकर उन्होंने अपने नाम ये रिकॉर्ड करा।

पहला दिन
पहले दिन का खेल खत्म होने तक भारत ने 6 विकेट के नुकसान पर 329 रन बनाये। पहले दिन के खेल में शिखर धवन ने अपने टेस्ट करियर का छठा और इस सीरीज का दूसरा शतक जड़ा है। धवन 119 रन बनाकर मालिंडा पुष्पकर्मा का शिकार बने। धवन ने अपनी पारी में 17 चौके जड़े।

भारत के विकेट 
भारत का पहला विकेट लोकेश राहुल के रूप में गिरा। लोकेश राहुल मालिंडा पुष्पकर्मा की गेंद पर करुणारत्ने को कैच दे बैठे। राहुल ने 85 रनों की पारी खेली। भारत को दूसरा झटका पारी के 49वें ओवर की पहली गेंद पर लगा। धवन 119 रन बनाकर मालिंडा पुष्पकर्मा का शिकार बने। कुछ ही देर बाद अच्छे फॉर्म में चल रहे चेतेश्वर पुजारा भी चलते बने। पुजारा लक्षण संदकाना की गेंद पर मैथ्यूस के हाथों लपके गए। भारत के तीन विकेट गिरने के बाद कप्तान उपकप्तान अजिंक्य रहाणे ने भारत की पारी को सँभालने की कोशिश की लेकिन रहाणे ज्यादा देर क्रीज पर टिक नहीं पाए और मालिंडा पुष्पकर्मा की गेंद पर बोल्ड होकर उनका तीसरा शिकार बने। भारत का पांचवा विकेट कप्तान विराट कोहली के रूप में गिरा। कोहली श्रीलंका के चाइनामैन गेंदबाज लक्षण संदकाना की गेंद पर करुणारत्ने को कैच दे बैठे। कोहली ने 42 रनों की पारी खेली। भारत का छठा विकेट अश्विन के रूप में गिरा। अश्विन 31 रन बनाकर आउट हुए। अश्विन विश्वा फर्नान्डो का शिकार बने। भारत ने दूसरे दिन 329 रन के आगे खेलना शुरू किया था। भारत के खाते में 10 रन ही जुड़े

थे कि रिधिमान साहा विश्वा फर्नांडो की गेंद पर दिलरुआन परेरा को कैच दे बैठे। कुलदीप यादव 26 रन बनाकर संदकाना के तीसरे शिकार बने। मोहम्मद शमी लक्षण संदकाना की गेंद पर उन्हीं को कैच दे बैठे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here