सीलिंग मुद्दे पर AAP को नहीं मिला BJP का साथ, सिसौदिया ने बताया दुर्भाग्यपूर्ण

0
57
Delhi School

नई दिल्ली: दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने आज कहा कि राजधानी में चल रहे सीलिग अभियान के कारण पैदा हुई समस्याओं के समाधान के लिए एक सर्वदलीय प्रतिनिधिमंडल उच्चतम न्यायालय द्वारा बनाई गई निगरानी समिति से मुलाकात करेगा। सिसोदिया ने इस मुद्दे पर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल द्वारा बुलाई गई बैठक का बहिष्कार करने के लिए भाजपा पर निशाना साधा। यह बैठक आज हुई जिसमें दिल्ली कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय माकन के नेतृत्व में कांग्रेस के तीन सदस्य और अन्य शामिल हुए। भाजपा ने इस बैठक में हिस्सा नहीं लिया। सिसोदिया ने यहां मुख्यमंत्री आवास पर हुई बैठक के बाद एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि माकन ने उन्हें आश्वासन दिया कि कांग्रेस सांसद आम आदमी पार्टी के सांसदों के साथ संसद में सीलिंग मुद्दे को उठाएंगे।

भाजपा पर निशाना साधते उपमुख्यमंत्री ने कहा कि यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि भाजपा के प्रतिनिधियों ने सर्वदलीय बैठक में भाग नहीं लिया। उन्होंने आरोप लगाया कि सीलिंग अभियान के जरिये भाजपा राष्ट्रीय राजधानी में खुदरा में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश के लिए रास्ता बनाना चाहती है। उन्होंने कहा, ‘‘आज की बैठक में यह निर्णय लिया गया कि सर्व-दलीय प्रतिनिधिमंडल सीलिंग मुद्दे का समाधान निकालने के लिए निगरानी समिति से मिलेंगा।’’ दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येन्द्र जैन, विकास मंत्री गोपाल राय, आप नेता संजय सिंह और विधायक सोमनाथ भारती ने इस बैठक में भाग लिया। बैठक के बाद माकन ने कहा कि इस मुद्दे पर सार्थक चर्चा हुई।

उन्होंने बैठक का बहिष्कार करने के लिए भाजपा पर भी निशाना साधा। उन्होंने कहा कि सीलिंग अभियान शुरू होने के बाद से दिल्ली सरकार निगरानी समिति से अब तक नहीं मिली। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री ने समिति के साथ बैठक करने पर भी सहमति जताई। सिसोदिया ने कहा कि यदि भाजपा चाहती तो वह तुरंत इस मुद्दे को हल कर सकती है। उन्होंने कहा, ‘‘भाजपा की केन्द्र में सरकार हैं। वे व्यापारियों को खत्म करना चाहते है।’’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here