UP निकाय चुनाव में अजब गड़बड़झाला, चुनाव चिन्ह जीता, प्रत्याशी हार गया

0
162

सुरेश कुमार सविता
कानपुर, U P निकाय चुनाव में अजब गड़बड़झाला देखने को मिला है। कानपुर नगर निगम के कई वार्डों में evm की गड़बड़ी देखने को मिली थी जिसके चलते कई जगह हंगामा भी हुआ था। अब कानपुर के वार्ड 70 कर्रही से अजब वाकिया सामने आया है।

‌दरअसल हुआ यूँ कि यहाँ चन्दा देवी और चंद्रावती नाम की दो निर्दलीय प्रत्याशी मैदान में आमने-सामने थीं। चुनाव आयोग की तरफ से दोनों को क्रमशः घंटी और खड़ाऊ चुनाव चिन्ह आवंटित किये गए थे। दोनों प्रत्याशियों ने इन्हीं चुनाव चिन्हों से अपना प्रचार भी किया था। लेकिन मतदान के ऐन एक रात पहले इन दोनों प्रत्याशियों के चुनाव चिन्हों की अदला-बदली हो गयी। यानी evm मशीन पर चंदा देवी के नाम के आगे खड़ाऊ और चंद्रावती के नाम के आगे घंटी चुनाव चिन्ह लग गया। ख़बरें 24 के पास सबूत के तौर पर प्रारूप 13 है जिसमें साफ़ तौर पर देखा जा सकता है कि चन्दा देवी और चंद्रावती के नाम के आगे हाथ से काटकर चुनाव चिन्ह बदले गए हैं।

format 13

‌चुनाव नतीजे जब सामने आये तो घंटी को 1812 वोट मिले और घंटी जीत गयी। लेकिन रिटर्निंग अधिकारी के द्वारा पार्षद का प्रमाण पत्र चंद्रावती को दे दिया गया। इस तरह घंटी तो जीत गयी लेकिन उम्मीदवार हार गया।

RO certificate

‌चंदादेवी के प्रतिनिधि अरविन्द मिश्रा का कहना है कि इस गड़बड़ी के बाबत पता चलते ही जिलाधिकारी और चुनाव आयोग को सूचित किया गया था लेकिन उन्होंने ये कहकर मामला शांत कर दिया कि ये सिंबल वोटिंग है जो सिंबल जीतेगा उसी का प्रत्याशी पार्षद पद पर आसीन होगा। लेकिन बाद में पार्षद प्रमाण पत्र चंद्रावती को प्रदान कर दिया जबकि खड़ाऊ को मात्र 95 वोट मिले थे।

‌इस बात से भड़के चंदादेवी के समर्थकों ने रिटर्निंग ऑफिसर पर धांधली का आरोप लगाते हुए कल रविवार को सड़क पर प्रदर्शन किया। चंदादेवी के पति शिवबालक ने धमकी दी कि अगर ये गलती सुधारी नहीं गयी तो वे डीएम आवास के बाहर प्रदर्शन करेंगे।



ख़बरें 24 ने जब दूसरे पक्ष से मामला समझने के लिए कॉल किया तो चंद्रावती और उनके पति से बात करवाने में आनाकानी की गयी। चुनाव चिन्ह के बारे में सवाल करने पर कॉल काट दिया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here