FIFA World Cup 2018: नाइजीरिया ने आइसलैंड को हराकर नाकआउट में पहुँचने की उम्मीदें रखीं बरकरार

0
151
ahmed_musa

स्ट्राइकर अहमद मूसा के दम पर नाइजीरिया ने आइसलैंड को 2-0 से हराकर फीफा विश्व कप 2018 के नॉकआउट में पहुंचने की अपनी उम्मीदें बरकरार रखीं. मूसा ने 49वें और 75वें मिनट में गोल दागे, जिससे नाईजीरिया अपनी पहली जीत दर्ज करने में सफल रहा. उसे पहले मैच में क्रोएशिया के हाथों 0-2 से हार झेलनी पड़ी थी.

ग्रुप डी में अर्जेंटीना के लचर प्रदर्शन के कारण अब नाइजीरिया तीन अंक के साथ दूसरे नंबर पर पहुंच गया है. इस ग्रुप से अंतिम-16 में कौन सी दूसरी टीम होगी, यह अर्जेंटीना-नाइजीरिया (26 जून) के अलावा क्रोएशिया-आइसलैंड (26 जून) मुकाबले के नतीजे पर निर्भर करेगा. क्रोएशिया पहले ही नॉकआउट चरण में पहुंच चुका है.

अर्जेंटीना के लिए ऐसे है अंतिम-16 का मौका-

उसे नाइजीरिया को हराना होगा और वह चाहेगा की क्रोएशिया की टीम आइसलैंड को हरा दे या कम से कम ड्रॉ रखे.

आइसलैंड ने अर्जेंटीना के खिलाफ 1-1 से ड्रॉ छूटे पहले मैच में जिस तरह का जलवा दिखाया था, वह आज नहीं दिखा पाया. पहले हाफ में उसने जरूर अच्छे मौके बनाए, लेकिन दूसरे हाफ में नाइजीरिया के आक्रामक तेवरों का उसके पास कोई जवाब नहीं था. इसके अलावा उसके स्टार स्टार गिल्फी सिगुर्डसन ने एक पेनल्टी को भी गंवाया.

पहले हाफ में आइसलैंड के सिगुर्डसन ने दो अच्छे मौके बनाए, लेकिन दोनों अवसरों पर फ्रांसिस उजोहो ने उनके प्रयासों को नाकाम कर दिया. नाइजीरिया ने पहले छह मिनट में सिगुर्डसन के इन हमलों के बाद सतर्कता बरती और गेंद को अपने कब्जे में रखने पर ध्यान दिया.

नाइजीरिया इसमें काफी हद तक सफल भी रहा, लेकिन यह मैदान के बीच तक ही सीमित रहा और उसने कोई खतरनाक मूव नहीं बनाया. इस बीच आइसलैंड ने जरूर आक्रामक तेवर दिखाए, लेकिन वह गोल करने में नाकाम रहा. पहले हाफ के इंजुरी टाइम में सिगुर्डसन और जान बोडवर्सन दोनों चूक गए और इस तरह से मध्यांतर तक स्कोर गोलरहित बराबरी पर रहा.

नाइजीरिया ने हालांकि दूसरे हाफ के शुरू में ही जवाबी हमले से गोल करके आइसलैंड पर दबाव बना दिय. मूसा ने 49वें मिनट में विक्टर मोसेज के क्रॉस पर अच्छी तरह से नियंत्रण जमाने के बाद शॉट जमाया और हेनेस हाल्डरसन के पास उसे रोकने का कोई मौका नहीं था.

इसके बाद नाइजीरिया अधिक आक्रामक होकर खेला. मूसा ने अपना असली जलवा तो खेल के 75वें मिनट में दिखाया, जब उन्होंने एकल प्रयास से गोल करके अपनी टीम की बढ़त दोगुनी की.

मूसा ने पहले कारी अर्नसन को अपनी तेजी और कौशल से पीछे छोड़ा और फिर गोलकीपर हाल्डरसन को छकाकर आसानी से गोल दागा. यह उनका पिछले दो विश्व कप मैचों में चौथा गोल है. वह पिछले मैच में नहीं खेले थे, लेकिन इससे पहले 2014 में ब्राजील में खेले गए अपने पिछले विश्व कप मैच में उन्होंने अर्जेंटीना के खिलाफ दो गोल किए थे.