इस आईपीएस ऑफिसर से मिलने के लिए घर छोड़कर भागी पंजाबी लड़की

    0
    9
    Sachin Atulkar

    होशियारपुर, सोशल मीडिया ने सामाजिक तानाबाने को किस कदर बिगाड़ कर रख दिया है कि अब इसमें नैतिकता का महत्व बड़ी तेजी से गुम होने लगा है। अभी तक लोगों में बॉलीवुड-हॉलीवुड के सितारे व क्रिकेट के अपने पसंदीदा चहेते खिलाडिय़ों से मिलने की बेताबी में पागल हो फैंस की बेताबी तो समझ में आती है, लेकिन अगर कोई महिला किसी मजबूत कद-काठी और हैंडसम लुक वाले आई.पी.एस.अधिकारी की दीवानी हो जाए, ऐसा बहुत कम ही सुनने को मिलता है। कुछ ऐसा ही हुआ है मध्य प्रदेश के शहर उज्जैन के गबरू-जवान 34 वर्षीय आई.पी.एस.अधिकारी सचिन अतुलकर के साथ। सचिन इस वक्त उज्जैन में एस.पी. के पद पर तैनात हैं।

    दरअसल हुआ यूं कि पंजाब के होशियारपुर की रहने वाली एक 27 वर्षीय महिला इस पुलिस अधिकारी की बॉडी पर इस कदर फिदा है कि वो उनसे मिलने सीधे उज्जैन जा पहुंची और उनसे मिलने की जिद्द करने लगी। लगातार 3 दिनों तक पुलिस व परिजनों के समझाने के बाद बुधवार दोपहर के समय महिला आई.पी.एस.सचिन अतुलकर से मिले बिना अब वापस होशियारपुर के लिए निकली हैं।

    Sachin Atulkar

    फिटनेस व लुक्स में सचिन का जबाव नहीं
    वैसे तो आई.पी.एस.अधिकारियों को अपनी फिटनेस का ध्यान रखना होता है लेकिन कई मामलों में कुछ पुलिसवाले ऐसा नहीं कर पाते। इस मामले में सचिन अतुलकर ऐसे पुलिस ऑफिसर हैं जो अपनी फिटनैस ही नहीं बल्कि लुक्स के मामले में भी किसी हीरो से कम नहीं हैं। वो जहां जाते हैं हर किसी के आकर्षण का केन्द्र बन जाते हैं। उन्हें पुलिस विभाग में फिटनैस के मामले में एक आइकॉन के रूप में देखा जाता है। सचिन महज 22 साल की उम्र में आई.पी.एस.ऑफिसर बन गए थे। उनके पिता फॉरेस्ट में थे और भाई सेना में हैं। भोपाल के रहने वाले सचिन पहली कोशिश में आई.पी.एस.बने स्पोट्र्स में भी कई मैडल जीत चुके हैं, साथ ही वो योगा भी करते हैं। सोशल मीडिया पर एक्टिव अतुलकर जब भी कोई तस्वीर शेयर करते हैं उसे हजारों लाइक्स मिल जाते हैं।

    सोशल मीडिया पर महिला हो गई थी फिदा
    उज्जैन महिला थाने की इंचार्ज रेखा वर्मा ने बताया कि पहले तो महिला कह रही थी कि वह गलती से भटक कर उज्जैन पहुंची है। जब उसे छोडऩे के लिए नगड़ा रेलवे स्टेशन पर पुलिस लेकर गई तो वह कहने लगी कि वह सोशल मीडिया पर सचिन अतुलकर की तस्वीरें व कद-काठी देख मोहित हो यहां उनसे मिलने पहुंची हूं। यदि जबरदस्ती वापस भेजा तो ट्रेन से कूद जाऊंगी। रेखा वर्मा के अनुसार महिला तलाकशुदा है व बातचीत करने के दौरान अबनॉर्मल दिख रही है। महिला के परिजनों की तरफ से समझाने पर बुधवार दोपहर के समय वह एस.पी.सचिन अतुलकर से मिले बिना होशियारपुर के लिए रवाना हो गई तब जाकर पुलिस महकमे ने चैन की सांस ली है।

    इच्छा के विपरीत दबाव में मिलना ठीक नहीं: एस.पी.सचिन
    जब इस संबंध में मोबाइल पर उज्जैन के एस.पी.सचिन अतुलकर से बात की तो उन्होंने साफ तौर पर कहा कि आधिकारिक ड्यूटी के दौरान ऑफिस में उससे मिलने कोई भी आ सकता है लेकिन व्यक्तिगत मामलों में इच्छा के विपरीत किसी से मिलने के लिए दबाव नहीं बनाया जा सकता है।

     

     

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here