IIT कानपुर ने रैगिंग के आरोपी 22 छात्रों को किया निलंबित

0
20
IIT

कानपुर, कानपुर आईआईटी में IIT प्रशासन ने जूनियर छात्रों के साथ रैगिंग के मामले में  22 छात्रों को निलंबित कर दिया है. ये निर्णय सीनेट में चली काफी लंबी बैठक के बाद लिया गया.  छात्रों द्वारा जांच कमेटी के सामने अपनी बात रखी गयी  लेकिन इनका पक्ष आईआईटी प्रशासन के सामने गलत साबित हुआ.

मंगलवार को आईआईटी कानपुर के डिप्टी डायरेक्टर प्रो. मणींद्र अग्रवाल ने  बताया कि रैगिंग मामले में आरोप साबित होने के बाद छात्रों के खिलाफ कार्रवाई की गई है, जिन 22 छात्रों को निलंबित कर किया गया है. इनमें से 16 छात्रों को तीन साल के लिए, जबकि 6 छात्रों को एक साल के लिए निलंबित किया गया.

आपको बता दें कि 19 और 20 अगस्त की रात में हाल-2 में सीनियर ने आईआईटी के जूनियर फ्रेशर छात्रों के साथ  रैगिंग की थी. इसके बाद पीड़ित जूनियर छात्रों ने आरोप लगाया था कि इंस्टीट्यूट के हॉल-2 में सीनियर छात्रों ने जूनियरों पर गलत हरकतें करने के लिए दबाव बनाया. मना करने पर उन्हें गालियां दी गईं. कुछ ने पिटाई की भी शिकायत की थी.

जूनियर की शिकायत के बाद आईआईटी प्रशासन ने डीन स्टूडेंट अफेयर्स और एंटी रैगिंग कमेटी का एक जांच दल बनाया जिनकी  जांच में आरोप सही पाया गया. इस जांच रिपोर्ट में आरोपी छात्रों को बर्खास्त करने और एफआईआर करने की सिफारिश की गई थी. इस रिपोर्ट के आधार पर सभी छात्रों को सीनेट ने निलंबित कर दिया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here